dharam Latest

बड़ा सवाल है कि आप सैकड़ों ज्योतिष के बीच योग्य ज्योतिष को पहचानेंगे कैसे ?

सबसे पहले तो आप यह मानना बंद कर दें कि टीवी पर आधे-आधे घंटे का प्रोग्राम देने वाला या ग्लैमरस स्टूडियो में इंटरव्यू देने वाला सभी ज्योतिष ज्योतिषीय ज्ञान से समृद्ध हैं। इनमें से कुछ सही हो सकते हैं तो कुछ गलत भी। इसलिए ग्लैमरस टीवी स्क्रिन पर दिखने वाले या प्राचरित होने वाले सभी ज्योतिषों पर भरोसा न करें। उसी ज्योतिष के पास जायें जिनकों आप पहले से जानते हैं या पहले परख चुके हैं, अथवा आपके किसी परिचित, मित्र या रिश्तेदारों ने जिन्हें आजमा रखा है। जिस ज्योतिष से आपको या आपके परिचितों और रिश्तेदारों को पहले लाभ मिल चुका है।
उस ज्योतिष पर आप आंख मूंदकर कभी भरोसा न करें जो आपके कुंडली वांचते हुए यह कह रहा हो कि पहले आपके साथ ऐसा होना चाहिए था या यह कहे कि आपके साथ पहले ऐसा हुआ होगा। ज्ञान से समृद्ध और जानकर ज्योतिष स्पष्ट शब्दों में आपके भूत काल की विवेचना करते हुए कहेगा कि आपके साथ ऐसा ही हुआ होगा। ध्यान रहे योग्य ज्योतिष के लिए अगर-मगर किन्तु-परंतु की कोई जगह नहीं होती। पहले और भविष्य की घटनाओं को वह पूरे आत्मविश्वास के साथ कनफर्म करता है। द्विअर्थो संवाद में भविष्य वाचने वाले और आपको ही कन्फ्यूज करने वाले ज्योतिष से आप सावधान रहें। जरा सा भी संदेह होने पर पहले अपनी गलत कुंडली की विवेचना करावें। जो कुंडली आपकी नहीं हो उसे अपनी कुंडली बताकर ज्योतिष महोदय के सामने प्रस्तुत करें। अगर वह वाकई सही और ज्ञानी ज्योतिष हैं तो कुंडली वाचने के पहले ही एक या दो सवाल कर आपकी कुंडली जांच कर उसे गलत करार देंगे और आपकी सही कुंडली बना देंगे या आपको सही कुंडली लाने की सलाह देंगे।
दरअसल आपकी सही कुंडली देखते ही कोई भी योग्य ज्योतिष आपका ‘नेचर और फीचर’ बड़ी आसानी से तुरंत बता सकता है। यहां तक की आपकी लंबाई, आपका रंग आपके चेहरे की बनावट के बारे में भी आपकी कुंडली देख कमोवेश सही-सही बताया जा सकता है। अगर कोई ज्योतिष आपकी कुंडली चेक किये बिना या कनफर्म किये बिना भी फलित की विवेचना करता है या उपाये बताता है या उपाये के नाम पर पैसा वसूली की कोशिश करता है तो भी आपको सावधान होने की जरूरत है।
अगर आप ज्योतिषीय सलाह ले रहें हैं या कुंडली की विवेचना करवां रहे हैं तो आप ज्योतिषीय उपाये कहीं भी करने या कराने के लिए स्वतंत्र हैं। याद रहे ज्योतिषीय ज्ञान एक अलग चीज है और उपाय के लिए कर्मकांड एक अलग चीज। दोनों में विशेषज्ञता हासिल करना एक टेढ़ी खीर है। इसलिए कोई एक व्यक्ति दोनों में विशेषज्ञ हो यह जरूरी नहीं है हां, कोई-कोई महापुरुष ऐसे हो सकते हैं।
आज ज्योतिषों की भीड़ में ठगे जाने की आशंका ज्यादा बढ़ गई है। इसलिए जरूरी है कि आप परख कर ही किसी से ज्योतिषीय सलाह लें। नहीं तो अच्छा होने की जगह बुरा भी हो सकता है।