Latest Politics World

शिखर सम्मलेन में भारत और पाक के प्रधानमंत्री हुए आमने-सामने, क्या आएगा रिश्तों में सुधार?

शंघाई को-ऑपरेशन आर्गेनाईजेशन (SCO) शिखर सम्मलेन की शुरुवात आज से हो गयी है. ये सम्मलेन कजाकिस्तान के राष्ट्रपति नूरसुल्तान नजरबायेव ने आयोजित की है जिसमें पीएम मोदी, नवाज शरीफ, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग शामिल हुए हैं.

इस सम्मलेन में पहुंचे भारत के नरेंद्र मोदी और पाक के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ का आखिरकार आमने-सामने आ गए. नरेंद्र मोदी और नवाज़ शरीफ दोनों ने ही एक दूसरे का अभिवादन किया। मोदी ने नवाज़ से उनकी और उनके माँ का हाल-चाल पूछा।

दरअसल, नवाज़ शरीफ का अभी हाल ही में हार्ट का ऑपरेशन हुआ था इस सर्जरी के बाद पहली बार दोनों नेताओं का आमना सामना हुआ है इसीलिए नरेंद्र मोदी ने नवाज़ का हाल पूछा।

पाकिस्तान की ओर से लगातार सीजफायर उल्लंघन, कुलभूषण जाधव मामला, घाटी में बढ़ते हैंसा और आतंकवाद के बाद से दोनों देशों के बीच तनाव का माहौल है और यही वजह है कि भारत ने सेना को ऑपरेशन की छूट दे दी है साथ ही मोदी फैसला ले चुके हैं कि अब अलगाओवाद और आतंकवाद को खत्म करना है. इसलिए भारत की तरफ से दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय वार्ता के लिए कदम उठाये गए.

बता दें कि, कजाकिस्तान में एससीओ सम्मलेन में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मोदी ने की मुलाकात की और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एससीओ सम्मलेन में कहा, ‘भारत की एससीओ में सदस्यता हम आपके प्रयासों की सरहाना करते हैं।