Education Latest Politics

बिहार का टॉपर संगीत में अव्वल, लेकिन नहीं जनता सुरों के बारे में

बिहार बोर्ड का रिजल्ट घोषित हो चुका है और इसमें 64 फीसदी बच्चे फेल हो गए हैं लेकिन हैरानी की बात ये है कि इस बार बिहार का आर्ट्स का टॉपर गणेश कुमार नाम का लड़का है जो पिछले साल की टॉपर रूबी की तरह फिसड्डी निकला। बता दें कि, 12वीं की परीक्षा में साइंस, आर्ट्स और कॉमर्स तीनों विषयों में सिर्फ 35 फीसद छात्र ही पास हुए हैं जबकि 64 फीसदी छात्र फेल हैं

मिली जानकारी के मुताबिक जिस छात्र ने इस बार बिहार बोर्ड में टॉप किया है वो झारखंड के गिरीडीह का रहने वाला है लेकिन 12वीं की पढ़ाई करने के लिए वो बिहार से 250 किलोमीटर दूर समस्तीपुर जहां गणेश ने रामनंदन सिंह जगदीश नारायण कॉलेज में 2015 में दाखिला लिया था। बोर्ड के परिणाम आने के बाद ये बात पता चला कि गणेश कुमार ना ही समस्तीपुर का है और ना ही अपने घर गिरिडीह में है। अब इस बात के पता चलने के बाद से सवाल उठ रहे हैं कि कहीं गणेश कुमार फर्जी टॉपर तो नहीं हैं?

बता दें कि, गणेश ने एडमिशन फॉर्म में अपनी जन्म तिथि 2 जून 1993 दिखाई है जिसका मतलब है कि गणेश 24 साल का है लेकिन इंटर की परीक्षा देने वाले छात्रों की उम्र 17 से 19 साल के बीच होती है।

गौरतलब है कि पिछले साल बिहार की टॉपर रूबी राय का इंटरव्यू लेने जब मीडिया पहुंची तो रूबी ने पॉलिटिकल साइंस को प्रॉडिकल साइंस बताया, और ये कहा कि इस विषय में खाना बनाने के बारे में बताया जाता है। ऐसे में इस साल के आर्ट्स टॉपर गणेश भी सवालों के घेरे में हैं। रिजल्ट सामने आने के बाद मीडिया गणेश को ढूंढ़ती रही लेकिन रिजल्ट के दो दिन बाद वह सामने आया तब पता चला कि गणेश को म्यूजिक के प्रैक्टिकल में 70 में से 65 नंबर मिले हैं। एक निजी न्यूज चैनल ने जब गणेश से गाने के अंतरे और मुखड़े के बारे में जानना चाहा तो नया टॉपर भी पिछले साल की टॉपर रूबी राय की तरह जवाब देने लगा जिससे गणेश शक  घेरे में आ गया.

गौर करने वाली बात ये है कि, टॉपर गणेश ने म्यूजिक विषय से परीक्षा दी और उसे प्रैक्टिकल में 70 में 65 अंक भी मिले। थ्योरी में भी 30 अंक में से उसे 18 अंक मिले हैं लेकिन विद्यालय में म्यूजिक के संसाधन नहीं हैं ऐसे में सवाल तो उठेंगे ही.

अब बिहार बोर्ड सवालों के घेरे में हैं कि बोर्ड छात्रों के भविष्य के साथ खेल रहा है तो मेहनत करने वाले छात्र किस बिनाह पर आगे की राह तय करेंगे।