Health & Fitness Latest

कोल्डड्रिंक पीने से होते हैं ये बड़े नुकसान, क्या अब भी आप……

इस वक़्त गर्मियां अपने चरम पर हैं। ऐसे में धूप में निकलने वाला हर इंसान बेहाल है। हर किसी को इस गर्मी से थोड़ी सी राहत पाने का सबसे अच्छा तरीका लगता है कुछ ठंडा पीना। इसलिए लगभग हर दूसरी दूकान पर कोल्ड ड्रिंक दिखाई दे ही जाती है।

कोल्ड ड्रिंक को कार्बोनेटेड सॉफ्ट ड्रिंक भी कहा जाता है। सॉफ्ट ड्रिंक का कारोबार पिछले 50 सालों में बढ़ता ही जा रहा है। सबसे पहले नंबर पर पेप्सी ब्रांड है जो कि 1990 में स्टार्ट हुई थी। उसके बाद कोकाकोला नाम की एक बड़ी कंपनी आई जो कि 1993 में बनी थी। इसके अलावा माउन्ट एंड ड्यू, स्प्राइट फेंटा, इस तरह की बहुत सारी कोल्डड्रिंक्स मार्किट में आईं। लोगों ने भी इन कोल्डड्रिंक्स को पीना शुरू कर दिया और आज ज़्यादातर लोगों को इसकी लत सी लग चुकी है। मगर ये जितनी जल्दी आपकी प्यास बुझा कर आपको तरोताज़ा करती है उतना ही ये आपके शरीर को नुक्सान भी पहुंचाती है। जी हाँ, इससे होने वाले नुकसान के बारे में पढ़कर शायद ही आप कोल्डड्रिंक्स पीना पसंद करें।

कोल्डड्रिंक में पाए जाने वाली एसिड हमारे दांतों के लिए बहुत ही नुकसानदेह है।

इसमे मौजूद फास्फोरिक एसिड हमारी हड्डियों को कमजोर कर देता है।

बिना किसी पोषक तत्वों के होने की वजह से अगर आप इसका सेवन लगातार करते हैं तो इससे आपका वजन बढ़ने लगेगा।

इसके अंदर दूसरे फूड से 200 गुना ज्यादा शुगर का इस्तेमाल किया जाता है जो कि आपको शुगर की लत लगा सकता है।

इस के लगातार सेवन से आपको माइग्रेन, याददाश्त कम होना, इमोशनल डिसऑर्डर, दिखने में कमी, सुनने में कमी, सांस लेने में दिक्कत जैसे रोग हो सकते हैं।

इस में पाए जाने वाले शुगर की वजह से आपको हाई BP की प्रॉब्लम हो सकती है और इसके साथ साथ आप की हार्टबीट भी तेज हो जाएगी।

अगर आप इसका लगातार सेवन करते हैं तो आपका स्वभाव लगभग चिड़चिड़ा रहने लगता है।

अगर आप इसका लगातार सेवन करते रहेंगे तो आपको गैस की प्रॉब्लम हो जाएगी जिसकी वजह से आपको नींद न आने जैसी समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

जो लोग अपना वेट कम करना चाहते हैं उनको कोल्ड्रिंग से दूर रहना चाहिए।