Indian Politics Latest World

तनाव कम नहीं हुआ तो युद्ध संभव : चीनी विशेषज्ञ 

सिक्किम सेक्टर में सीमा विवाद अब अपने चरम पर है जिसको लेकर चीनी विशेषज्ञों ने बयान देकर भारत को चेताया है कि पूरी प्रतिबद्धता से अपनी सम्प्रभुता की रक्षा करेगा, फिर चाहे उसे युद्ध ही क्यों न करना पड़े। एक चीनी अख़बार के विशेषज्ञों के मुताबिक अगर दोनों देशों के बीच हालत नहीं सुधरे तो दोनों देशों के बीचयूध हो सकता है।
शंघाई म्युनिसिपल सेन्टर फॉर इंटरनेशनल स्टडीज में प्रोफेसर वांग देहुआ का मानना है कि “चीन भी 1962 से बहुत अलग है” वे रक्षा मंत्री अरुण जेटली के उस बयान पर प्रतिक्रिया दे रहे थे, जिसमें उन्होंने कहा था कि 2017 का भारत 1962 से बहुत अलग है।
गौर हो जेटली ने कहा था कि “यदि वे हमें याद दिलाना चाहते हैं तो 1962 के हालात अलग थे और 2017 का भारत अलग है,” वांग का कहना है, “भारत 1962 से ही चीन को अपना सबसे बड़ा प्रतिद्वंद्वी मानता आ रहा है, क्योंकि दोनों देशों में कई समानताएं हैं, उदाहरण के लिए दोनों ही बहुत बड़ी जनसंख्या वाले विकासशील देश हैं”