Blogs Politics Videos

वीडियो : ड्यूटी से लौट रहे CRPF जवान को कश्मीरी युवक ने मारी लात, जवान ने फिर भी नहीं खोया धैर्य

देश में कश्मीर को लेकर क्या हालात हैं ये तो किसी से छुपा नहीं है। आए दिन कश्मीर में हिंसा की खबरें आती रहती हैं। सुरखबालों की आतंकियों और कश्मीर के पथ्थरबाजों से आए दिन झड़प होती रहती है। लेकिन इस बार जो वीडियो सामने आया है उसने तो सारी हदें ही पार कर दी हैं। भारतीय जवानों को कश्मीर में कितने मुश्किल हालत से गुज़ारना पड़ता है ये तो हम सभी जानते हैं लेकिन ये वीडियो इस बात का सबूत भी है कि कैसे कश्मीरी भारतीय जवानों के साथ बदसलूकी करते हैं और ऐसा कर के वो इसे अपनी शान समझते हैं। इस वीडियों आप ख़ुद देख सकते हैं कि कैसे इलेक्शन से लौट रहे जवानो के साथ कश्मीरी युवक बदतमीजी करते हैं। एक युवक तो crpf के जवान को लात मारता है। लेकिन अब ज़रा हमारे देश के इस महान जवान को देखिए जो इसके बाद भी कुछ नहीं कहता और चुपचाप सीधा चलता चला जाता है।

 

ये वीडियो हाल ही में हुए उपचुनाव के दौरान का है। दरअसल उस समय जवान ईवीएम की सुरक्षा कर रहे थे, उनके ईवीएम को सेफ रखना काफी जरुरी था। ना कि उस युवक को जवाब देना।

आए दिन सुरक्षाबलों को आतंकियों से झूझना पड़ता है तो कभी पाकिस्तान की तरफ से हो रही गोलीबारी का जवाब देना पड़ता है। ऐसे में कश्मीर के नागरिक भी सुरक्षाबलों के साथ बदसलूकी करने में कोई कसार नहीं छोड़ते हैं। कश्मीर के नागरिक आए दिन सुरखाबालों को पथ्थर मारते हैं तो कभी उनके साथ बदसलूकी की सारी हदें पार कर देते हैं। लेकिन फिर भी भारतीय सुरक्षाबल कभी भी अपना धैर्य नहीं खोते और एक ही समय पर हर तरफ से हो रहे हमले का जवाब देते हैं। लेकिन फिर भी अगर इस बीच जवान शहीद हो जाएं तो कुछ नुमाइंदे ऐसे हैं कि वो कोई शोक ज़ाहिर नहीं करते लेकिन अगर कश्मीरी नागरिकों के साथ ज़रा भी कोई हादसा हो जाए तो उसे बढ़ा चढ़ा कर दिखाया जाता है। उन लोगों से सहानभूति जताई जाती है।

तो फिर हमारे सुरक्षाबलों और जवानों का क्या ? उनका क्या कोई आत्मसम्मान नहीं हैं ? आख़िर ये कश्मीरी कैसे भूल जाते हैं कि जब कश्मीर में बाढ़ आती है या कोई आपदा आती है तो वो इन्ही सुरक्षाबलों के आगे हाथ फैलाते हैं। क्या इन जवानों को बेज्ज़त करने वालों के अंदर कोई शर्म नहीं बची है। आख़िर ये सब कर के उन्हें क्या हासिल होगा ? ये बाते हमे जरूर सोचने पर मजबूर करती हैं। लेकिन एक बात हमारा सर जरूर गर्व से ऊंचा कर देती है कि हमारे जवानों में कितना धैर्य है कि वो इतनी बदसलूकी होने के बाद भी कभी अपना धैर्य नहीं खोते और फिर भी मुश्किल समय में ना सिर्फ कश्मीरियों की मदद करते हैं। बल्कि दुश्मनों से हमारी भी रक्षा करते हैं। वाकई हमे अपने देश के इन बहादुर जवानों पर गर्व है और हमे इनसे बहुत कुछ सीखने को भी मिलता है।