Business Latest Politics

दिल्ली मेट्रो में पॉकेटमार करने वालों में ज्यादातर महिलाएं

अगर आप दिल्ली मेट्रो में ट्रेवल करते हैं तो सतर्क हो जाइये जेब कतरों की नज़र आपके सामान और पैसों पर है। हाल ही में CISF ने एक डेटा रिलीज किया है जिसके आंकड़े सुनकर आप हैरान हो जायेंगे। इस डाटा के अनुसार जेब काटने के मामले पिछले साल से तीन गुना बढ़े हैं जिसमें ज्यादातर महिलाएं हैं। इस डेटा के अनुसार 77 फीसदी महिलाएं पॉकेट मारी में पकड़ी गयी हैं।

इस डेटा के अनुसार, पकड़े गए 521 पॉकेटमारों में से 401 महिलाएं थीं। 148 पॉकेटमारों को यात्रियों की मदद से पकड़े गए हैं। मेट्रो स्टेशन पर संदिग्धों को पकड़ने के लिए एक टीम बनाई गई है इसमें एक सब-ऑफिसर और एक कॉन्सटेबल तैनात होंगे।

इस टीम की मदद करने के लिए ग्राउंड स्टाफ जो सादे कपड़ों में होंगे जिससे वह लोगों के बीच में रहकर संदिग्धों को पकड़ सकें। CISF के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि, ‘ज्यादातर पॉकेट मार की घटनाएं चांदनी चौक, शाहदरा, हुडा सिटी सेंटर, कीर्ति नगर, नई दिल्ली, राजीव चौक और तुगलकाबाद में होती हैं।’ इन घटनाओं को रोकने के लिए एक अलग से टीम गठित की गई है जिनकी पैनी नज़र ऐसे पॉकेटमारों पर होगी।