Crime Latest

रेप के दो मामलों में राष्ट्रपति ने ठुकराई क्षमा याचिका

राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के कार्यकाल में अब बस चंद दिन ही शेष रह गए हैं, ऐसे में राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने जाते – जाते दो मामलों में अपराधियों के क्षमा याचिका को खारिज़ कर दिया है। जानकारी के मुताबिक़ दोनों ही मामले रेप और हत्या से जुड़े हुए हैं।

जिन मामलो को राष्ट्रपति ने ठुकराया है उनमें 5 साल पहले इंदौर में एक चार साल की मासूम का अपहरण कर बलात्कार का मामला जिसमें तीन लोग आरोपी हैं और दूसरा मामला एक कैब चालक और उसके सहयोगी द्वारा पुणे में आइटी प्रोफेशनल के गैंगरेप व मर्डर का है।

आरोपियों में बाबू उर्फ केतन, जितेंद्र उर्फ जीतू, और देवेंद्र उर्फ सनी हैं जिनकी उम्र 20 से 22 साल है, ये इंदौर में एक चार साल की मासूम के साथ अपहरण तथा रेप व हत्या के मामले में आरोपी हैं। जबकि दूसरा मामला पुणे का हैं जहाँ से जुड़े केस में पुरुषोत्तम दसरथ बोरेट और प्रदीप यशवंद कोकडे ने विप्रो में काम करनेवाली एक 22 वर्षीय युवती की हत्या और रेप किया था। इन मामलों में कोर्ट ने दोषियों को फांसी की सजा सुनायी है।