Indian Politics Latest

शहर के अंदर बने हाईवे पर बनी शराब की दुकानों को मिल सकती है शराब बेचने की अनुमति

सुप्रीम कोर्ट द्वारा हाईवे के 500 मीटर के दायरे में लगाए गए प्रतिबन्ध के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने बड़ी टिप्पणी की है। कोर्ट ने कहा है कि, अगर कोई स्टेट हाईवे शहर के बीच से होकर गुजरता है और उसे डिनोटिफाई किया जाता है तो पहली नजर में गलत नहीं होगा। कोर्ट ने तर्क देते हुए कहा है कि, शहर के बीच से गुजरने वाले हाईवे से वहां धीमी गति से चलते हैं, साथ ही हाईवे का मतलब है जहां तेज रफ्तार में गाडि़यां चलती हों। शहर के बीच से गाड़ियां आम तौर ओर धीमी रफ्तार से चलती हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हाईवे के 500 मीटर दायरे में शराब की बिक्री पर रोक के पीछे सोच ये है कि लोग शराब पीकर तेज रफ्तार में गाड़ी ना चलाए लेकिन लेकिन सिटी में इस तरह की रफ्तार देखने को नहीं मिलती। CJI ने याचिकाकर्ता को कहा कि वो सवालों के जवाब दें और फिर 11 जुलाई को सुनवाई कर आदेश जारी करेंगे।