Health & Fitness Latest

युवाओं को धूम्रपान से होगी ये अजीब बीमारी …

आज की युवा पीढ़ी के लिए धूम्रपान करना आम हो गया है, ये जानते हुए कि धूम्रपान करने से उनके फेफड़ों को नुकसान पहुंचेगा। बावजूद इसके युवा इस बात को नज़रअंदाज कर देते हैं क्यूंकि वे समझते हैं कि अगर वे अपने फ्रैंडसर्कल में धूम्रपान नहीं करेंगे तो शायद वे मज़ाक बनकर रह जाएंगे या वे अपने दोस्तों के साथ कम्फर्ट नहीं हो पाएंगे, ये बात आज की पीढ़ी में कंही न कंही रहती है।

आज हम आपको बताएंगे की इस युवा पीढ़ी को धम्रपान से सिर्फ फेफड़ों को ही नुकसान नहीं बल्कि ‘रूमेटॉइड आर्थराइटिस’ यानी संधिवात या गठिया का खतरा रहता है। बता दें कि रूमेटॉइड आर्थराइटिस एक सूजन सम्बंधित बीमारी है जो की लम्बे समय तक बनी रहती है, जो शरीर के जोड़ों, खासकर हाथों और पैरों में पाए जाने वाले जोड़ों को प्रभावित करता है।

एक शोध के मुताबिक जो लोग धूम्रपान के आदि हैं या धूम्रपान करने वालों के संपर्क मेंरहते हैं, उनमें जोखिम का अनुपात बचपन में धूम्रपान न करने वालों की तुलना में 1.73 पाया गया। शोधकर्ताओं के मुताबिक “धूम्रपान नई गैरजरूरी हड्डियों के बनने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह बीमारी सिंडेसमोफाइटिस कहलाती है।”

तुर्की की इजमिर कतीप सेलेबी यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर सेरवेट अकार के मुताबिक, “धूम्रपान न केवल बीमारियों की संवेदनशीलता के लिए, बल्कि इसके साथ मरीजों में रोगों की तीव्रता बढ़ाने में एक बड़ा खतरा होता है।”
उन्होंने कहा, “रूमेटॉलॉजिस्टों को अपने मरीजों को धूम्रपान छोड़ने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए, क्योंकि ये भविष्य में जीवन की गुणवत्ता पर बड़ा प्रभाव डाल सकता है।”