BJP Indian Politics Latest national State

थियेटर्स में राष्ट्रगान बजाना अब जरूरी नहीं, सुप्रीम कोर्ट ने बदला अपना फैसला

अब थियेटर्स में फिल्म से पहले राष्ट्रगान बजाना अनिवार्य नहीं है। दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने 30 नवंबर 2016 को दिए अपने फैसला को पलटते हुए अब इसे ऑप्शनल कर दिया है। इससे पहले केंद्र सरकार ने एफिडेविट दाखिल करके कोर्ट से अपील की थी कि वो अपने राष्ट्रगान की अनिवार्यता के फैसले को बरकरार रखे। केंद्र का कहना था कि इसके लिए इंटर मिनिस्ट्रियल कमेटी बनाई गई है, जो छह महीने में अपने सुझाव देगी। इसके बाद सरकार तय करेगी कि कोई नोटिफिकेशन या सर्कुलर जारी किया जाए या नहीं। जिसके बाद बीते अक्टूबर में कोर्ट ने यह कहा था, “लोग मनोरंजन के लिए फिल्म देखने जाते हैं, वहां उन पर इस तरह देशभक्ति थोपी नहीं जानी चाहिए। यह भी नहीं सोचना चाहिए कि अगर कोई शख्स राष्ट्रगान के दौरान खड़ा नहीं होता तो वह कम देशभक्त है।” अटॉर्नी जनरल ने कहा कि यह फैसला सरकार पर छोड़ दिया जाना चाहिए कि वो थिएटर में राष्ट्रगान बजाने या इस दौरान लोगों के खड़े होने पर क्या सोचती है।