dharam Latest

आज है वट पूर्णिमा का व्रत, सुहागिन महिलाएं ऐसे करें पूजा

आज वट पूर्णिमा है, इस दिन सुहागिन महिलाएं अपने पति की लम्बी उम्र के लिए वैट पूर्णिमा का व्रत रखती हैं। इस व्रत में महिलाएं 108 बार बरगद की परिक्रमा कर पूजा करती हैं। ऐसी मान्यता है कि गुरुवार को वट सावित्री पूजन करना बेहद फलदाई होता है। सावित्री ने वट वृक्ष के नीचे ही अपने मृत पति सत्यवान को यमराज से वापस ले लिया था। यही वजह है कि विवाहित महिलाएं अपने पति की लंबी आयु के लिए इस व्रत को रखती हैं।

महिलाऐं ऐसे करें व्रत

इस दिन महिलाएं स्नान कर सुहाग से जुड़ा हर श्रृंगार करें। महिलाएं इस दिन उपवास रखकर वट वृक्ष के नीचे बैठ कर पूजा आराधना करें। एक बांस की टोकरी मे सात तरह के अनाज रखें जिसे कपड़े के दो टुकड़े से ढ़क कर दूसरी टोकरी में सावित्री की प्रतिमा रख के फिर वट वृक्ष को जल,अक्षत,कुमकुम से पूजा करें। इसके बाद लाल मौली से वृक्ष के सात बार चक्कर लगाते हुए ध्यान करें। इसके बाद सभी महिलाएं सावित्री की कथा सुनकर फिर दान दक्षिणा करें। इसके बाद जल ग्रहण कर पति से आशीर्वाद लें।