Bollywood Latest Movie Review Movie Reviews

मूवी रिव्‍यू : ईद से पहले ही रोशन हुई ‘ट्यूबलाइट’

डायरेक्टर कबीर खान और सलमान खान की लगातार दो सुपरहिट फिल्मों के बाद अब तीसरी फिल्‍म ‘ट्यूबलाइट’ रिलीज़ हो गई है। हर बार की तरह इस बार भी सलमान अपने फैन्स के लिए ईद पर तोहफा लेकर आएं हैं। अभी तक सलमान खान की हर फ़िल्म ने ब्लॉकबस्टर कमाई की है। ज़ाहिर है कि सलमान और उनके फैन्स को इस फ़िल्म से भी काफ़ी उम्मीदें हैं। ये फ़िल्म सलमान के फैन्स की उम्मीद पर खरी भी उतरती नज़र आ रही है। अभी तक के अगर रिव्यू की बात करें तो ये फ़िल्म दर्शकों को ख़ूब पसंद आ रही है।

फ़िल्म की कहानी

फ़िल्म ‘इन दोनों भाइयों की परवरिश उनके माँ-बाप की मौत के बाद एक अनाथ आश्रम में होती है। दरअसल गांव में सब सलमान को ‘ट्यूबलाइट’ बुलाते हैं क्योंकि उसमें सोचने समझने की शक्ति कम होती है। इस फिल्‍म की कहानी 1962 के भारत चीन युद्ध के दौरान की बनाई गई है, जिसके चलते नौजवानों को सेना में भर्ती किया जा रहा है और इसी वक्‍त भरत यानी सोहिल खान भी सेना में भर्ती हो जाता है। ऐसे में भरत को अपने भाई लक्ष्‍मण की चिंता होती है जो उसके जाने के बाद अकेला पड़ जाता है। भरत के जाने के बाद अब उसके भाई लक्ष्‍मण को उसके वापस आने का इंतजार है और उसे यकीन है कि वो वापस आएगा। इसके बाद फ़िल्म की कहानी इसी पर आधारित है कि क्या भरत वापस आएगा? वहीं इसी बीच भारत और चीन का युद्धा शुरू होने के बाद लिलिंग (झूझू) और पर्की गुओ (माटिन रे टेंगू) जोकि चीन के रहने वाले हैं जो जगतपुर आते हैं। उसके बाद इस फ़िल्म में बहुत कुछ देखने को मिलता है। इसी पर टिकी है ‘ट्यूबलाइट’ की कहानी। इसके बाद क्या होता है ये जानने के लिए आपको ख़ुद ये फिल्म देखनी होगी। इस फ़िल्म में शाहरुख खान का भी छोटा सा जादूगर का रोल है। उनके किरदार का नाम गो गो पाशा है जो आपको काफी अच्छा लगेगा।

स्टार्स की एक्टिंग

फ़िल्म में सभी एक्टर्स की परफॉर्मेंस की बात करें तो,सलमान अपनी माचो मैन की इमेज से बिल्कुल उलट दिखाई देते है। सोहेल फिल्म में बहुत सिन्सियर दिखे हैं, वहीं जू जू ने और छोटे मातिन को देखकर भी आपको मज़ा आएगा। दोनों ने ही काफ़ी अच्छी एक्टिंग की है। ओम पुरी साहब का किरदार भी दमदार और यादगार है।

फ़िल्म की कमजोर कड़ियां

फिल्म का स्क्रीनप्ले काफी कमजोर सा नजर आता है जिसे और भी अच्छे तरीके से पेश किया जा सकता था। फिल्म की कहानी को उतनी अच्छी तरह से प्रेजेंट नहीं किया जा सका। फिल्म काफी इमोशनल है लेकिन फिर भी ये सीन आपको इमोशनल करने में नाकाम साबित होते हैं। फिल्म का क्लाइमेक्स काफी और दिलचस्प किया जा सकता था। कुल मिलाकर ये फ़िल्म आपको बोर तो बिलकुल नहीं करेगी बल्कि आप पूरे टाइम इस फ़िल्म को एन्जॉय करेंगे।

कहानी कैसी भी हो लेकिन सलमान के फैन्स को उनकी हर फ़िल्म पसंद आती है और उनकी फ़िल्म अच्छा बिज़निस भी करती है। ईद पर भाईजान की फ़िल्म रिलीज़ हो और वो अच्छा बिज़निस ना करे ऐसा तो हो ही नहीं सकता। ट्यूबलाइट के पहले दिन की कमाई 25 से 30 करोड़ के आस पास होने की पूरी उम्मीद है।