BJP Latest Politics

योगी का जन्मदिन आज, जानें योगी कैसे पड़े सब पर भारी

उत्तर प्रदेश की कमान संभाल रहे योगी आदित्यनाथ का आज जन्मदिन है. उनका जन्म उत्तराखंड के गढ़वाल में 5 जून 1974 में एक राजपूत परिवार में हुआ था। उनका वास्तविक नाम ‘अजय सिंह’ है। उन्होंने गढ़वाल विश्विद्यालय से गणित में बीएससी किया है उस दौरान अजय की गिनती अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के प्रखर कार्यकर्ताओं के रूप में होने लगी थी।।बीएससी करने के बाद अजय ने गोरखपुर के गुरु गोरखनाथ जी पर शोध करना शुरू कर दिया उसी दौरान गोरक्षनाथ पीठ के महंत अवैद्यनाथ की नजर अजय पर पड़ी। महंत जी के प्रभाव में अजय सिंह का आध्यात्मिक की ओर झुकाओ बढ़ गया। अजय सिंह ने मात्र 22 वर्ष की उम्र में सांसारिक जीवन त्यागकर सन्यास ग्रहण कर लिया जिसके बाद महंत अवैद्यनाथ ने उन्हें ‘योगी आदित्यनाथ’ नाम दिया। महंत अवैद्यनाथ ने 1998 में राजनीती से संन्यास लिया और योगी आदित्यनाथ को अपना उत्तराधिकारी घोषित कर दिया। अपने गुरु की आज्ञा का पालन करते हुए योगी आदित्यनाथ ने 1998 में ही गोरखपुर से 12 वीं लोकसभा सीट का चुनाव जीत कर सबसे काम उम्र (26) के सांसद बने। इसके बाद योगी आदित्यनाथ का राजनीती में जैसे आगे बढ़ते गए उनका रिश्ता विवादों की वजह से तो कभी उनके बयानों की वजह से चर्चा में बने रहे। उत्तर प्रदेश में बीजेपी की जीत के बाद 19 मार्च 2017 में उत्तर प्रदेश के बीजेपी विधायक दल की बैठक में योगी आदित्यनाथ को विधायक दल का नेता चुनकर मुख्यमंत्री पद सौंपा गया.

उत्तर प्रदेश का नेता बनने के बाद योगी ने कई बड़े फैसले लिए महिलाओं की सुरक्षा हो या कानून व्यवस्था या हो धर्म की बात. मुखयमंत्री बनने के बाद से योगी ने ‘सबका साथ सबका विकास’ को महत्व देते हुए सभी के लिए एक समान फैसले लिए. आइए नज़र डाल लेते हैं अभी तक के उनके फैसले पर-

1. गौ तस्करी पर पूर्ण प्रतिबन्ध लगा दिया।

2. अवैध बूचडख़ानों को तत्काल प्रभाव बंद करने के आदेश दिए और इसपर अमल भी किया गया।

3. राजनेताओं को दी गयी सुरक्षा की समीक्षा।

4. अधिकारी-मंत्री अपनी संपत्ति और खातों की जानकारी 15 दिन में दें

5. कर्मचारी, अधिकारी और मंत्री समय से अपने विभाग में पहुंचे।

6. नवरात्रि और राम नवमी के उपलक्ष्य में 24 घंटे बिजली दी जाये।

7. मंदिरों में पूजा-अर्चना के दौरान श्रद्धालुओं की सुविधा का ख्याल रखा जाये।

8. अधिकारी सूबे के गांवों में 24 घंटे बिजली की व्यवस्था की योजना बनायें।

9. सरकारी अस्पतालों के डॉक्टर सही समय पर अस्पताल पहुंचे।

10. 3000 नई मेडिकल शॉप्स खुलवाई जाएंगी, जहां सस्ती दरों पर दवाई उपलब्ध कराई जाएगी।

11. आगरा, इलाहाबाद, मेरठ, गोरखपुर, झांसी में मेट्रो के लिए जल्द डीपीआर तैयार किया जाये।

12. सरकार किसानों का शत-प्रतिशत अनाज खरीदेगी।

13.  अनाज के क्रय के लिए सरकार छत्तीसगढ़ का मॉडल अपनाएगी।

14.  सभी शुगर मिल्स गन्ना खरीद के 14 दिनों के भीतर उसका भुगतान सुनिश्चित करें।

15.  सभी गांवों में सड़कों का जाल बिछायेंगे।

16. ट्रांसफार्मर के फुंकने के बाद अधिकारी मौके पर पहुंचकर अपनी देख-रेख में बदलवाएं।

17. मंत्री हर हफ्ते अपने विभागों की फाइलों की सूची बनायें।

18.  कोई भी मंत्री अपने विभागों से सम्बंधित फाइलों को घर नहीं ले जा सकता है।

19. सरकारी दफ्तरों के कमरों में सीसीटीवी कैमरा लगाये जाएं।

20. बायो मेट्रिक मशीनों से सरकारी दफ्तरों में उपस्थिति दर्ज कराई जाएगी

21.  नागरिक घोषणा पत्र के जरिये लोगों की समस्याओं को जल्द से जल्द सुलझाया जाए

22. सरकारी फाइलों का निस्तारण जल्द हो।

23.  सभी सरकारी दफ्तरों में स्वच्छता का विशेष ख्याल रखा जाये।

24. एंटी-रोमियो स्क्वाड का गठन।

25. कई आईएएस अफसरों का किया तबादला।

26. अखिलेश सरकार की योजना में किया बदलाव।

27. किसानों के कर्ज़ माफी का वायदे पर किया अमल.

बता दें कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  सुबह ही ट्वीट करके योगी आदित्यनाथ को जन्मदिन की बधाई दी.